Sunday, July 3, 2022
HomeNewsINDIAट्विटर के नेता रह गए हैं अखिलेश यादव- मनोज यादव CONGRESS INC

ट्विटर के नेता रह गए हैं अखिलेश यादव- मनोज यादव CONGRESS INC

-

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पिछड़ा वर्ग विभाग के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज यादव ने कहा है कि अखिलेश यादव संसद में सबसे कम सवाल पूछने वाले सांसद हैं। उत्तर प्रदेश में लगातार पिछड़े वर्ग के लोगों की हत्याएं होती रही,उनके साथ नाइंसाफी होती रही,पिछड़े वर्ग के नौकरियों में 69000 शिक्षक भर्ती में पिछड़े वर्ग की हकमारी हुई और लगातार पुलिस द्वारा फ़र्जी एनकाउंटर में इस समुदाय के लोगों को मारा गया। लेकिन संसद में इन सवालों को अखिलेश यादव ने कभी नहीं उठाया। अब वो सिर्फ़ ट्विटर के नेता रह गए हैं। प्रदेश मुख्यालय से जारी बयान में मनोज यादव ने कहा कि अखिलेश यादव और उनका समूचा कुनबा उत्तर प्रदेश में यादवों का भावनात्मक दोहन कर रहा है।

जहां पर यादव चुनाव लड़कर जीत सकते हैं वहां पर इनके परिवार के सदस्य चुनाव लड़ते और जीतते आ रहे हैं. लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव में बसपा से गठबंधन के बाद भी फिरोज़ाबाद से रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव, कन्नौज से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव,बदायूं से अखिलेश के चचेरे भाई धर्मेंद्र यादव भी चुनाव हार गए थे जो साबित करता है कि अब यादव परिवार से जातिगत आधार वोट भी नाराज़ हो चुका है मनोज यादव ने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भी पिछड़ा वर्ग की रिजर्व सीटों पर इटावा से मुलायम सिंह यादव के नाती अंकुश यादव और हमीरपुर से धर्मेंद्र यादव के साले पुष्पेंद्र यादव की पत्नी बंदना यादव को टिकट दिया गया है।

पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव हत्याकांड को लेकर प्रियंका गांधी ने लिखा योगी आदित्यनाथ को पत्र INC CONGRESS

जिससे साबित होता है कि समाजवादी पार्टी एक परिवार और उनके रिश्तेदारों की पार्टी है। उत्तर प्रदेश के गरीब पिछड़े और वंचित यादव से भी इनका कोई लेना देना नहीं है जबकि अन्य पिछड़ी जातियों को यह लगता है कि सिर्फ यादवो का ही भला करते हैं और यादवो को ही टिकट देते हैं जबकि अन्य पिछड़ी जातियों सहित अन्य यादवों का भी हक मुलायम सिंह यादव का परिवार खा और मोटा रहा है।

Related articles

Stay Connected

20,000FansLike
74FollowersFollow
14SubscribersSubscribe

Latest posts