बिहार: पिता चलाते है किराना की दुकान,बेटे ने टॉप की BPSC की परीक्षा

पटना शहर से कुछ दूरी पर ही स्थित फतुहा गाँव के ओमप्रकाश गुप्ता ने बिहार लोक सेवा आयोग(BPSC) की 64 वीं परीक्षा में टॉप किया है,बता दें कि ओमप्रकाश के पिता जी विंदेस्वरी शाव गाँव में ही किराना की दुकान चलाते है। वहीं टॉप करने के बाद मीडिया से बातचीत में ओमप्रकाश गुप्ता ने बताया कि मेरा उद्देश्य लोगों को बेहतर सेवा देना होगा साथ ही गरीबी और बेरोजगारी को भी दूर करने का प्रयास करूँगा।


पैसे की कमी के सरकारी स्कूल में करनी पड़ी थी पढ़ाई,नौकरी छोड़ इस सेक्टर में कूदे


ओमप्रकाश की प्रारंभिक पढ़ाई सरकारी स्कूल से हुई ऐसा उन्हें घर में आर्थिक तंगी के कारण करना पड़ा था लेकिन कहते है जब किसी के हौसले कमजोर नहीं होते है तो रास्ते में कितनी भी बाधाएं आ जाये वह मजबूत हौसलों के आगे टिक नहीं पाती है। स्कूली शिक्षा पूरी करने के उपरान्त 2008 में उन्होंने इंजीनियरिंग की परीक्षा पास करके आईआईटी रुड़की में दाखिला लिया,वहीं बी-टेक पूरा करने के बाद उन्होंने टीचिंग का सेक्टर पकड़ लिया।

ओमप्रकाश ने आगे बताया कि उन्होंने पाँच साल तक टीचिंग सेक्टर में नौकरी की,आखिरकार 2017 में बीपीएससी की परीक्षा की तैयारी के लिये नौकरी छोड़ दी,और एक साल की कड़ी मेहनत के बाद उन्होंने यह मुकाम हासिल किया।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles