दवा लेने निकले युवक को थप्पड़ मारने वाले DM को हटाया गया, CM ने मांगी माफ़ी : CHHATTISGARH

लॉकडाउन के दौरान कोरोना जांच और ड्यूटी के लिए घर से बाहर निकले लोगों की पिटाई करने वाले सूरजपुर DM रणबीर शर्मा की सरकार ने उनको उनके पद से हटा दिया है, देशभर में वायरल वीडियो से फजीहत के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज सुबह ही IAS रणबीर शर्मा को कलेक्टर पद से हटाने व पीड़ित युवक के परिवार से माफ़ी मांगती हुए युवक को नया मोबाइल देने का निर्देश दिया।

शनिवार की दोपहर लॉकडाउन के दौरान एक युवक दवाई का पर्चा लेकर दवाई लेने मेडिकल स्टोर जाने को निकला था, इसी बीच DM रणवीर शर्मा दलबल के साथ Lockdown का मुआयना करने निकले तो सड़कों पर लोगों की आवाजाही देख वह भड़क उठे और अपने  साथ चल रहे सुरक्षाकर्मियों से कहकर उन्होंने एक युवक को रुकवाया और उसे पहले एक चांटा रसीद कर दिया, इस दौरान युवक दवाई की पर्ची भी दिखाता रहा लेकिन कलेक्टर ने उसकी एक न सुनी और युवक का मोबाइल छीनकर उसे सड़क पर पटक दिया|

चाय वाले से अभद्रता दरोगा को पड़ी महँगी, चरखारी विधायक के दखल के बाद दरोगा पर हुई कार्यवाही।

Video:

Tauktae तूफान का कहर ,गुजरात और महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों को भेजा गया सुरक्षित स्थान |

घटना का वीडियो सामने आते ही बवाल शुरू हो गया। लोगों ने सोशल मीडिया पर इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा कि IAS अफसर अपने पद के घमंड में जरूरतमंदों की तकलीफ भूल जाते हैं। तो किसी ने कलेक्टर के इस रवैये को बेहद गैर जिम्मेदार बताया। छत्तीसगढ़ के अलावा देश के दूसरे हिस्सों के लोगों ने भी वीडियो शेयर करते हुए इस घटना पर गुस्सा जाहिर किया।

सीएम बघेल ने ट्वीट किया, “सोशल मीडिया के माध्यम से सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार का मामला मेरे संज्ञान में आया है. यह बेहद दुखद और निंदनीय है. छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. कलेक्टर रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं.”

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles