Himachal: अक्टूबर में सजने वाला था जवान के सिर सेहरा, उसके पहले ही हुये शहीद

देश की सरहद में हर साल हजारों जवान शहीद हो जाते है, हर जवान अपना घर परिवार छोड़ देश की सेवा में सदैव तत्तपर रहते है। वहीं कल शनिवार को जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले के मनकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा के समीप बारूदी सुरंग फटने से Himachal प्रदेश का एक जवान शहीद हो गया। जानकारी के मुताबिक शहीद जवान का नाम कमलदेव है, वह छह साल पहले भारतीय सेना की 15 डोगरा रेजिमेंट में भर्ती हुये थे।

आपको बता दें कि कमल की शादी ठीक तीन महीने बाद अक्टूबर में तय थी, वहीं उनके शहीद होने के बाद उनके माता-पिता अपने बेटे के सिर पर सेहरा भी सजा नहीं देख सकें। Himachal के हमीरपुर जनपद के पैतृक गाँव में उनका शव पहुँचा तो वहाँ मौजूद हर व्यक्ति के आँखों में आँसू छलक पड़े।

वहीं ताबूत पर उनके भाई ने दूल्हे के कपड़े भेंट किये, कमलदेव के अविवाहित होने की वजह से परिजनों ने उनकी शादी की रस्में निभाई। वहीं अब शहीद कमलदेव के परिवार में माता-पिता, बड़ा भाई, और दो बहनें है, जिनका इस घटना के बाद रो-रोकर बुरा हाल है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles