राहुल गाँधी ने वापस आते ही GST पर बोला हमला

rahul-gandhi-talks-back-on-gst-as-soon-as-he-returns
rahul-gandhi-talks-back-on-gst-as-soon-as-he-returns

 

कहा ग्रेहणियों पर क्यों डाला बोझ

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर शुक्रवार को बड़ा हमला बोला है। राहुल ने कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) देश की अक्षम और संवेदन शून्य सरकार द्वारा लागू की जा रही है। राहुल ने कहा कि जीएसटी का कांग्रेस शुरू से समर्थन करती रही है। उन्होंने कहा, ‘हालांकि नोटबंदी की ही तरह जीएसटी को भी बिना तैयारी के ही लागू किया जा रहा है।’ गौरतलब है कि आज आधी रात को संसद के सेंट्रल हॉल में होने वाले जीएसटी कार्यक्रम का कांग्रेस बहिष्कार कर रही है। केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए राहुल ने कहा कि जीएसटी अपार संभावनाओं वाला कर सुधार है। पर इसे बिना तैयारी के लागू किया जा रहा है, यह सही नहीं है।

उन्होंने खासकर एलपीजी को जीएसटी के दायरे में लाने की आलोचना करते हुए कहा कि सरकार एक तो एलपीजी पर मुनाफा कमा रही है और दूसरे उसने गृहण‍ियों पर जीएसटी का बोझ डाल दिया है।

पीएम के दौरों से कोई फायदा नहीं

माकन ने कहा कि हमारे देश को पीएम के विदेशी दौरों से कोई फायदा नहीं हो रहा। पीएम का यह 65वां दौरा है। दुनिया भर का भ्रमण कर रहे हैं पीएम पर उपलब्ध‍ि कुछ नहीं, हमारे पड़ोसी देशों से ही संबंध बिगड़ रहे हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस ने जीएसटी लागू करने की घोषणा के लिए 30 जून की आधी रात को बुलाई गई संसद की विशेष बैठक का भी बहिष्कार किया था। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम रमेश, आनंद शर्मा और रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस की आपत्तियों को साझा किया था। गुलाम नबी आजाद ने आजादी के कार्यक्रमों का हवाला देने के बाद देश में मॉब लिन्चिंग की घटनाओं, अल्पसंख्यकों, दलितों, महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों को लेकर भी केंद्र और प्रदेश की बीजेपी सरकारों पर निशाना साधा था।

Loading...