अनुपम खेर बने ftii के नए चेयरमैन

anupam kher

बुधवार को ही अनुपम खेर को ftii का नया चेयरमैन बनाया गया और उसी दिन जानकारी मिली कि पुणे के इस फिल्म इंस्टिट्यूट ने 5 छात्रों को निकाल दिया है. इसलिए क्योंकि उन्होंने संस्थान प्रशासन के उस फैसले का विरोध किया जहां शूटिंग के नियमों में बदलाव किया गया और तीन दिन का शूट उनसे दो दिन में खत्म करने को कहा गया. 2016 के पूरे बैच ने उसका विरोध करते हुए इस एक्सरसाइज का बहिष्कार किया. और डायरेक्शन, सिनेमैटोग्राफी, साउंड डिजाइन, एडिटिंग और आर्ट डायरेक्शन के वो पांच स्टूडेंट जिन्होंने प्रोडक्शन मीटिंग में हिस्सा नहीं लिया था उन्हें तीसरे सेमेस्टर के दौरान कैंपस से निकाल दिया गया है.

उन्हें हॉस्टल खाली करने को कहा गया है.

ये फैसला रवाना हो रहे चेयरमैन गजेंद्र चौहान के कहे पर लिया गया या कैसे.. पता नहीं, लेकिन ये घटनाक्रम कला-विरोधी और छात्र-विरोधी है. फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट कोई गांव की पांचवीं की सरकारी स्कूल नहीं है जहां डंडा चलाकर हर चीज मास्टर करता है. ये देश और विश्व में रचनात्मकता और आर्ट के शीर्ष केंद्रों में से एक है. यहां के छात्रों को जब तक आप बराबरी का मनोभाव नहीं देंगे तब तक आप प्रशासनिक रूप से अकुशल ही कहलाएंगे. इतना ही नहीं, चेयरमैन और प्रशासन से भी उम्मीद की जाती है कि वो पढ़ाने में और कोर्स को चलाने के प्रोसेस में भरपूर आज़ादी और इनोवेशन का प्रदर्शन करें.

Loading...