सपा-बसपा हुए एक साथ, कांग्रेस को भी न्योता, पर ये है शर्त !

Mayawati May Be Support Akhilesh
Mayawati May Be Support Akhilesh

राज्यसभा की एक सीट के लिए बसपा प्रमुख मायावती ने सपा के साथ डील कर ली है। बसपा ने गोरखपुर-फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में सपा को समर्थन दे दिया है। बदले में बसपा के एक कैंडिडेट को राज्यसभा भेजने में सपा मदद करेगी।

मायावती ने कहा कि यह चुनावी समझौता नहीं, बल्कि ‘इस हाथ ले, उस हाथ दे’ का फॉर्मूला है। मैं कहना चाहूंगी कि एसपी और बीएसपी का कोई गठबंधन होगा तो गुपचुप तरीके से नहीं होगा, बल्कि खुलकर होगा। किसी पार्टी से भी गठबंधन होगा तो मीडिया को सबसे पहले बताया जाएगा। उन्होंने कांग्रेस को भी ऑफर दिया कि राज्यसभा चुनाव में मध्यप्रदेश में बसपा के वोट लेने हैं तो बदले में यूपी में मदद करनी पड़ेगी।

हमारी पार्टी में अभी इतने विधायक नहीं हैं कि हम खुद से चुनकर अपना मेंबर राज्यसभा भेज दें और ना ही समाजवादी पार्टी के पास इतने मेंबर हैं कि वो अपने दो लोगों को राज्यसभा भेज सके। इसलिए हमने तय किया है कि हम उनका एमएलसी बना देंगे और वो अपने वोट हमें ट्रांसफर कर देंगे, ताकि हम राज्यसभा में अपना सदस्य भेज सकें।

Loading...