Karnal: किसानों का धरना हुआ खत्म, प्रशासन और किसानों के बीच हुआ समझौता

कुछ दिनों पूर्व से Karnal में जारी किसानों और प्रशासन के बीच संघर्ष आज समाप्त हो गया है। बता दें कि किसान लाठीचार्ज के विरोध में एसडीएम आयुष सिन्हा के खिलाफ सख्त कार्यवाही की माँग कर रहे थे, वहीं इस पूरे प्रकरण की न्यायिक जाँच के आदेश दे दिये गये हैं। इसके बाबत अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह ने बताया कि आम सहमति के बाद निर्णय लिया गया है कि 28 अगस्त को हुई घटना की न्यायिक जाँच करायी जायेगी।

उन्होंने आगे बतलाते हुये कहा कि यह जाँच पूरे एक महीने में पूरी होगी, वहीं इस दौरान SDM आयुष सिन्हा छुट्टी पर रहेंगे। साथ ही साथ मृतक किसान सतीश काजल के दो परिजनों को सरकारी नौकरी दी जायेगी, इन फैसलों के बाद किसानों ने इस आंदोलन को खत्म करने का फैसला लिया है। आपको बता दें कि 28 अगस्त को किसानों ने करनाल में किसानों ने व्यापक प्रदर्शन करते हुये सत्ता पक्ष BJP का तगड़ा विरोध किया था, इस दौरान पूरे शहर में भारी मात्रा में प्रदर्शन हुये थे।

वहीं प्रशासन ने बवाल बढ़ता देख पूरे शहर को सील कर दिया था, इसके साथ ही बसताड़ा टोल पर किसानों का मजमा लगना शुरू हुआ तो किसानों और पुलिस के बीच टकराव हो गया। पुलिस ने इसी दौरान किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया, इसी दौरान SDM आयुष सिन्हा का लाठीचार्ज के आदेश का अनुपालन कराने के लिये पुलिसकर्मियों को समझाते हुये एक वीडियो वायरल हो गया था। इसके साथ ही किसानों की नाराजगी और भी बढ़ती गयी, करनाल में पिछले कई दिनों से किसानों का जमघट लगा हुआ था जोकि भारी प्रदर्शन कर रहे थे।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles