Kashmir: पत्थर-बाजों पर कसी गयी नकेल, पत्थरबाजी करते मिले तो नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी

Jammu & Kashmir में उपद्रव करने वालों के खिलाफ अब सरकार कड़ी कार्यवाही करने के मूड में है, ऐसे में सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंकने वालों के खिलाफ सरकार आज एक अहम फैसला लिया है। इस नये फैसले के मुताबिक पत्थरबाजी करने वालों को अब पासपोर्ट की सेवा से वंचित कर दिया जायेगा, साथ ही वह सरकारी नौकरी में अपनी सेवाएं नहीं दे पायेंगे।

Kashmir CID की स्पेशल ब्रांच ने सभी सिक्योरिटी यूनिट को यह आदेश आज ही जारी किया गया है, इसमें आगे कहा गया है कि राज्य के जिस व्यक्ति को भी पत्थरबाजी करते हुये पकड़ा जाये, उसे किसी तरह का भी सिक्योरिटी क्लीयरेंस न दिया जाये। वहीं पत्थरबाजी के आरोप तय होने पर डिजिटल सबूत (वीडियो या फोटो), पुलिस रिकार्ड की जाँच की जायेगी।

इसके साथ ही Jammu&Kashmir में अब किसी व्यक्ति के परिवार का सदस्य और खास रिश्तेदार यदि किसी राजनीतिक पार्टी से जुड़ा है तो इसकी भी जानकारी उसे देनी होगी। वहीं जानकारी के मुताबिक किसी भी राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने के बारें में भी वहाँ के नागरिकों को CID को बताना होगा, साथ ही विदेशी प्रतिबंधित संगठनों से जुड़े होने की जानकारी भी उनसे माँगी जायेगी।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles