Olympic Player सुशील हत्या के आरोप में अपने साथियों समेत Delhi से गिरफ्तार|

पुलिस की स्पेशल सेल ने सुशिल कुमार को दिल्ली के मुंडका इलाके में गिरफ्तार किया। सुशील कुमार पर आरोप है की उन्होंने छत्रसाल स्टेडियम में जूनियर गोल्ड मेडलिस्ट पहवान सागर राणा की हत्या की। सुशील कुमार (38) के साथ उनके सहयोगी अजय उर्फ सुनील (48) को भी गिरफ्तार किया गया है। यह दोनों 4 मई को देर रात हुई घटना के बाद से फरार चल रहे थे।मामले में सुशील पर पुलिस ने एक लाख जबकि उनके साथी अजय पर 50 हजार रुपये के इनाम का ऐलान किया गया था।

वहीं, मंगलवार को रोहिणी कोर्ट ने सुशील की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था।कोर्ट ने कहा था कुश्ती खिलाड़ी कुमार प्रथमदृष्टया मुख्य साजिशकर्ता हैं और उनके खिलाफ लगाए गए आरोप गंभीर हैं. उनके खिलाफ खिलाफ हत्या, अपहरण और आपराधिक षड्यंत्र का मामला दर्ज किया गया है। स्पेशल सेल अब इन दोनों को रोहिणी कोर्ट में पेश करेगी। इसके बाद सुशील और अजय को नॉर्थ-वेस्ट जिले की पुलिस को सौंप दिया जाएगा। स्पेशल सेल को इंस्पेक्टर शिव कुमार, इंस्पेक्टर करमबीर और ACP अतार सिंह के द्वारा लीड किया जा रहा था । सुशील पर IPC सेक्शन 302 (हत्या), 365 (अपहरण), 120-B (आपराधिक साजिश रचने) के तहत मामला दर्ज किया गया है |

International Football Player संगीता ईंट के भट्टे में काम करने को मजबूर : Jharkhand.

पुलिस के मुताबिक, दिल्ली के मॉडल टॉउन इलाके में 4 मई को देर रात सुशील और उनके साथियों ने एक फ्लैट से पहले सागर और उसके दोस्तों को हथियार के बल पर किडनैप किया। फिर छत्रसाल स्टेडियम में ले जाकर उनकी पिटाई की। रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस को स्टेडियम का एक CCTV फुटेज भी हाथ लगा है | छत्रसाल स्टेडियम के पार्किंग एरिया में पहलवान के दो गुटों में फायरिंग भी हुई। जिसमे 5 पहलवान जख्मी हो गए। इनमें सागर (23), सोनू (37), अमित कुमार (27) और 2 अन्य पहलवान शामिल थे।

पुलिस ने घटनास्थल से 5 गाड़िया एक लोडेड डबल बैरल गन और 3 जिंदा कारतूस बरामद किया है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक वह सुशील कुमार की भूमिका की जांच कर रहे हैं। इसके बाद पुलिस ने सुशील और अन्य आरोपी की तलाश में कई जगहों पर छापेमारी भी की है, क्योंकि उन पर गंभीर आरोप लगा हैं। लुकआउट नोटिस जारी करने के बाद भी सुशील सामने नहीं आए। इस कारण उनके अलावा अन्य आरोपियों के खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया है |

ऑक्सीजन कन्संट्रेटर की कालाबाजारी मालमे में नवनीत कालरा गिरफ्तार |

घटना के एक दिन बाद सुशील ने मामले पर सफाई देते हुए सभी आरोपों से इनकार किया था।उन्होंने कहा था कि वह हमारे साथी पहलवान नहीं थे। पुलिस अधिकारियों को हमने ही सूचित किया था कि कुछ अज्ञात लोग हमारे परिसर में घुसकर झगड़ा कर रहे हैं। सुशील ने 2012 के लंदन ओलिंपिक में सिल्वर और 2008 बीजिंग ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था

- Advertisement -

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles