Tuesday, May 17, 2022
HomeNewsPolitics'मगरमच्छ निर्दोष है', राहुल गाँधी का PM पर निशाना |

‘मगरमच्छ निर्दोष है’, राहुल गाँधी का PM पर निशाना |

-

राहुल गांधी ने शनिवार को एक बार फिर देश में कोरोना को लेकर केंद्र सरकार जो काम कर रही है उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा, तो राहुल गाँधी के साथ कांग्रेस के दो और वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम और जयराम रमेश ने भी सरकार के खिलाफ लामबंदी शुरू कर दी|

राहुल गाँधी समेत पी चिदंबरम और जयराम रमेश भी वैक्सीन की कमी से लेकर बढ़ते ब्लैक फंगस के बढ़ते मामलों तक और पीएम मोदी के भावुक हो जाने पर जोरदार प्रहार करते दिखाई दे रहे हैं, शनिवार शाम उन्होंने ट्वीट कर एक चार्ट शेयर किया, जिसमें एशिया के देशों में कोविड महामारी, मृत्यु दर प्रति 10 लाख और जीडीपी ग्रोथ का उल्लेख किया गया था|

Rahul Gandhi का केंद्र पे निशाना बोले: ‘ध्यान भटकाओ, झूठ फैलाओ, शोर मचाकर तथ्य छुपाओ’|

राहुल गांधी ने इस ट्वीट के साथ प्रधानमंत्री के भावुक होने को जोड़ते हुए सरकार पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि वैक्सीन नहीं है, जीडीपी निम्नतम स्तर पर है, मौत का आंकड़ा शीर्ष पर है और सरकार की प्रतिक्रिया सिर्फ पीएम मोदी के रोने को लेकर आ रही है|

डॉ. शाहिद जमील ने दिया इस्तीफा, सरकार पर सबूतों की अनदेखी करने का आरोप लगाया |

इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था कि मगरमच्छ निर्दोष है, उनकी यह टिप्पणी वाराणसी में स्वास्थ्य कर्मियों के साथ चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री के भावुक होने के बाद सामने आई थी|

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने ट्विटर पर लिखा कि सरकार ने जनवरी 2021 में दावा किया था कि जुलाई अंत तक 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी लेकिन 22 मई की हकीकत बताती है कि सिर्फ 4.1 करोड़ लोगों को कोरोना की दोनों डोज लग पाई है, उन्होंने आगे लिखा कि 21 मई को सरकार दावा कर रही है कि साल के अंत तक सभी देशवासियों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकेगी लेकिन सच्चाई ये है कि 21 मई को पूरे दिन में 14 लाख लोगों को टीके की खुराक दी गई, जयराम रमेश के अनुसार देश को वैक्सीन की जरूरत है, आंसुओं की नहीं|

Related articles

Stay Connected

20,000FansLike
73FollowersFollow
14SubscribersSubscribe

Latest posts