Sunday, November 27, 2022

आज का पंचांग TODAY PANCHANG

सौजन्य: सचिन अग्रवाल (मेरठ)
🇮🇳⛳ सुप्रभात🌞 वन्देमातरम्⛳🇮🇳
🌿🍁🔔🐚🔆 🐚🔔🍁🌿
ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः


बुधवार, ⓶⓷ जून ⓶⓪⓶⓵
पूर्णिमांत माह : ज्येष्ठ
अमावस्यांत माह : ज्येष्ठ
पक्ष : शुक्ल पक्ष
तिथि : त्रयोदशी (०६:५९:०८, चतुर्दशी)
नक्षत्र : अनुराधा (११:४७:०२)
योग : साध्य
विक्रम सम्वत : २०७८ आनन्द
शक सम्वत : १९४३ प्लव
युगाब्द : ५१२३
आयन : उत्तरायण
ऋतु : ग्रीष्म
सूर्योदय : ०५:२२
सूर्यास्त : १९:२१
अभिजीत मुहूर्त : कोई नहीं
राहुकाल : १२:२१ से १४:०६
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩

प्रभात दर्शन
आज खुला इतिहास-पृष्ठ फिर उस महान बलिदानी का।
अंकित है हृत्पट पर गौरव, जिसकी अमर कहानी का॥
प्रकट हुआ जो वीर विलक्षण प्रतिभा का वरदान लिये।
वाणी में वर ओज, कंठ में देश-प्रेम का गान लिये॥
टोक न कोई सका,गरजती जिसकी उग्र जवानी को।
रोक न कोई सका कभी जिसकी निर्बाध रवानी को॥
तूफानों में भी जिसने,छोड़ी कर से पतवार नहीं।
रहा जूझता संघर्षों से मानी मन में हार नहीं॥
सिंह-गर्जना से जिसने था द्रोही दल को ललकारा।
‘देश अखण्ड रहे मेरा’ था एक यही जिसका नारा॥
नन्दन वन पर आँख लगी जब देखी उन हत्यारों की।
ज्वाला बन कर भड़क उठी तब आग दबे अंगारों की॥
निकल पड़ी हुंकार अधिक अब रख सकते हैं धीर नहीं।
प्राण भले देने हों पर जाने देंग कश्मीर नहीं॥
मची प्रबल हलचल प्राणों में,पशुता को झकझोर चला।
कमर बाँध कर वीर उसी दम काश्मीर की ओर चला॥
लक्ष्य-द्वार तक ही पाया था पहुँच सिंह वह मतवाला।
देख दूर से ही दुष्टों ने पकड़ पींजड़े में डाला।।
हाय! वहीं बन्दीगृह में उस नेता का अवसान हुआ।
देशभक्त उस महावीर के प्राणों का बलिदान हुआ॥
वीरों का बलिदान बन्धुओ! कभी न खाली जाता है।
रक्त शहीदों का निश्चय ही रंग एक दिन लाता है॥
धन्य-धन्य श्यामा प्रसाद! हे अखण्डता के अभिलाषी।
युग-युग तक यश-गान तुम्हारा गायेंगे भारतवासी॥
दो हमको वह शक्ति,देश का सुयश धरा पर व्याप्त करें।
चलें तुम्हारे पद चिह्नों पर सदा सफलता प्राप्त करें॥

🍁🦚 आपका दिन मंगलमय हो 🦚🙏
~~
डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी का बलिदान दिवस, अमर शहीद राजेंद्रनाथ लाहिड़ी जी की जयंती

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles