आज का पंचांग Today Panchang

सौजन्य: सचिन अग्रवाल (मेरठ)
🇮🇳⛳ सुप्रभात🌞 वन्देमातरम्⛳🇮🇳
🌿🍁🔔🐚🔆 🐚🔔🍁🌿
ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः


गुरुवार, ⓵⓸ अक्टूबर ⓶⓪⓶⓵
पूर्णिमांत माह : आश्विन
अमावस्यांत माह : आश्विन
पक्ष : शुक्ल पक्ष
तिथि : नवमी (१८:५१:५६)
नक्षत्र : उत्तराषाढा (०९:३४:२२)
योग : धृति
विक्रम सम्वत : २०७८ आनन्द
शक सम्वत : १९४३ प्लव
युगाब्द : ५१२३
आयन : दक्षिणायन
ऋतु : शरद
सूर्योदय : ०६:२०
सूर्यास्त : १७:५०
अभिजीत मुहूर्त : ११:४२ से १२:२८
राहुकाल : १३:३१ से १४:५८
🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩

प्रभात दर्शन-
मां सिद्धिदात्री उपासना 
श्री दुर्गा का नवम् रूप श्री सिद्धिदात्री हैं। ये सब प्रकार की सिद्धियों की दाता हैं, इसीलिए ये सिद्धिदात्री कहलाती हैं। नवरात्रि के नवम दिन इनकी पूजा औरआराधना की जाती है। सिद्धिदात्रीकी कृपा से मनुष्य सभी प्रकार की सिद्धिया प्राप्त कर मोक्ष पाने मे सफल होता है। मार्कण्डेयपुराण में अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व एवं वशित्वये आठ सिद्धियाँ बतलायी गयी है। भगवती सिद्धिदात्री उपरोक्त संपूर्ण सिद्धियाँ अपने उपासको को प्रदान करती है। माँ दुर्गा के इस अंतिम स्वरूप की आराधना के साथ ही नवरात्र के अनुष्ठान का समापन हो जाता है। 
मंत्र-
सिद्धगंधर्वयक्षादौर सुरैरमरै रवि।
सेव्यमाना सदाभूयात सिद्धिदा सिद्धिदायनी॥
या देवी सर्वभू‍तेषु माँ सिद्धिदात्री रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।
इस दिन को महानवमी भी कहा जाता है और शारदीय नवरात्रि के अगले दिन अर्थात दसवें दिन को रावण पर श्रीराम की विजय के रूप में मनाया जाता है। दशम् तिथि को बुराई पर अच्छाई की विजय का प्रतीक माना जाने वाला त्योहार विजयादशमी यानि दशहरा मनाया जाता है। इस दिन रावण, कुम्भकरण और मेघनाथ के पुतले जलाये जाते हैं।
जय श्री राम 

🍁🦚 आपका दिन मंगलमय हो 🦚🙏
~~
नवम् नवरात्र (माँ सिद्धिदात्री उपासना, महानवमी), महान क्रांतिकारी लाला हरदयाल जी की जयंती, परमवीर चक्र विजेता सेकंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल जी की जयंती

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles