UP Polytechnic: अधर में लटका छात्रों का भविष्य, ऑनलाइन एग्जाम कराने की थी तैयारी

UP में 2.25 छात्रों का भविष्य अभी लटका हुआ है, लंबे समय से इंजीनियरिंग के सपने को पूरा आगे बढ़ने की ख्वाहिश रखने वाले छात्रों का इंतजार लगातार बढ़ता ही जा रहा है। जानकारी के मुताबिक बोर्ड ऑफ टेक्निकल एजुकेशन ने UP Polytechnic की परीक्षा को इस बार AKTU के तर्ज पर ऑनलाइन कराने की तैयारी थी, लेकिन अभी भी बोर्ड कोई भी प्रस्तावित शेड्यूल जारी करने की स्थिति में नहीं है।

आपको बता दें कि UP में मौजूदा समय में 1417 राजकीय-सरकारी सहायता और निजी पॉलीटेक्निक संस्थानों की संख्या है, जहाँ अभी तक सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू नहीं हो सकी है। हाल में ही परीक्षाओं को 22 जुलाई से कराने का निर्णय लिया गया था लेकिन चंद दिनों बाद ही इसे स्थगित कर दिया गया। वहीं इसके पेपर कराने को लेकर शासन से दिशा- निर्देश भी जारी किये गये थे, शासन ने कहा था कि इस बार का पेपर MCQ यानी बहुविकल्पीय कराया जाये और इसे ऑनलाइन तरीके से कराया जाये।

जानकारी के मुताबिक बोर्ड में इस परीक्षा को कराने के लिये एजेंसी के निर्धारण को लेकर प्रक्रिया पूरी नहीं हो पायी है, शासन में बैठे अधिकारियों की वजह से इसमें प्रक्रिया प्रभावित हो रही है, जिसका भुगतान 2.25 लाख छात्रों को भरना पड़ रहा है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles