UP: लखीमपुर में अंतिम अरदास में सम्मिलित होने पहुँची प्रियंका गाँधी, मंच में नहीं मिली जगह

UP के लखीमपुर-खीरी जनपद में हिंसा में जान गँवाने वाले किसानों की आत्मा की शांति के लिये आज अंतिम अरदास (श्रद्धांजलि सभा) रखी गयी है, जहाँ घटनास्थल से एक किलोमीटर की दूरी पर इस कार्यक्रम को रखा गया है। जानकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिये UP के साथ-साथ पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और छत्तीसगढ़ आदि राज्यों से 50 हजार से अधिक किसान पहुँचे हैं।

कार्यक्रम की शुरुआत में पलिया से आये रागी जत्थे ने गुरुवाणी का बखान करके कार्यक्रम को आगे बढ़ाया, जानकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में मृतक किसानों के परिजनों और घायल किसानों को प्रमुखता से सम्मलित किया गया है। दूसरी तरफ इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिये कई राजनेता भी पहुँचे हैं, जिनमें से प्रियंका गाँधी वाड्रा भी शामिल है, उन्हें लखीमपुर जाने से पहले सीतापुर में रोका गया था लेकिन बाद में जाने दिया गया। इसके साथ ही संयुक्त मोर्चा ने बयान जारी करते हुये कहा है कि मंच में कोई भी सियासी नेता नहीं बैठेगा, जो भी नेता यहाँ आयेगा उसे जनता के साथ बैठना होगा।

बता दें कि इसी की वजह से प्रियंका गाँधी को भी मंच में बैठने की अनुमति नहीं दी गयी है, इसके साथ ही भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत कल रात्रि में ही कार्यक्रम स्थल में उपस्थित हो गये थे। वहीं इस कार्यक्रम की आयोजन समिति ने जानकारी देते हुये बताया कि आज अरदास कार्यक्रम जारी है, जहाँ लोग मृत किसानों को श्रद्धांजलि देंगे। इस कार्यक्रम की शुरुआत शबद कीर्तन के साथ हुई है, इसके बाद सभी किसान नेता शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देकर अपने अपने विचार व्यक्त करेंगे।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles